MENU X
जयपुर शहर के चारों ओर रामगढ़ झील:


जमवा रामगढ एक लोकप्रिय जगह है ये जयपुर के आम लोगो के बीच रामगढ के रूप में जाना जाता है। यह जयपुर शहर से लगभग 35 किमी की दुरी पर स्थित है। वर्तमान में रामगढ झील एक सूखे हालात में है। अभी यहां पर प्राकृतिक सौन्दर्य और प्राकृतिक हरियाली इस साल बिलकुल भी नही है।

रामगढ़ झील को क्या सुशोभित बनाता है?

मानसून, बरसात के मौसम में बारिश और सर्दी के मौसम और ताजा और ठंडी हवा के लिए सरकार को हरियाली लगानी चाहिए सुखी जगह को वापस से आप हरीभरी बना सकते है।

मानसून के मौसम में और सर्दियों के मौसम में रामगढ झील बहुत ही अच्छी लगती है।

रामगढ - परिवार के साथ सेर करने के लिए सही जगह

जमवा रामगढ सप्ताह के अंत में आप परिवार के साथ पिकनिक मानाने की अच्छी जगह है यहां पर आकर प्रकृति की गोद में बैठ कर आप सुखद जीवन का आनंद लीजिये।

रामगढ़, न बहुत दूर, चलो ड्राइव करते हैं

जमवा रामगढ लोगो की पहुँच के अंदर है यह बहुत दूर नही है आप यहां पर साहसिक कार्य जैसे पहाड़ पर चढ़ना उतरना कर सकते है आप को बहुत अच्छा लगेगा।

रामगढ़ के रास्ते पर जल महल

रामगढ के रास्ते में जल महल है यहां पर आपको जल महल की सुंदरता को देख कर यहां पर रुकने का मन करेगा और आप यहां पर रुक भी जायेगे और घूम के जायेगे।

रामगढ बाघ में पहले बहुत पानी था इसके लिए ये प्रसिद्ध

रामगढ़ बांध की प्रसिद्धि पानी के लिए आज तक काफी मानी जाती है।

रामगढ़ बांध की दीवारों से, इसके अंदर पानी के स्तर को आसानी से देखा जा सकता है।

एक ऐसा भी समय था जब रामगढ बाघ भरा हुआ था और पानी के साथ बुदबुदाती था।

इतिहास : क्या रामगढ़ झील के निर्माण के लिए कुछ हो रहा है।

जमवा रामगढ बाघ का इतिहास सदियो से तारीखों में ही दफन है।

बार-बार पराजित

यह कहा जाता है कि 11 वीं सदी में वापस, कछवाहा वंश के शासक दुलारे मीणा राजवंश समय के शासकों के खिलाफ लड़ाई लड़ी और फिर बाद में कई बार उनको हार का सामना करना पड़ा था।

भगवान से प्रार्थना

हार के बाद दुलारे मीना ने अपनी कुलदेवी के सामने बहुत ज्यादा प्रार्थना की और मीना शासको को युद्ध में जितने के लिए देवी से वरदान माँगा। ऐसा माना जाता है कि कुलदेवी उनके सपने में आई और उनको जितने का आशीर्वाद दे दिया। बाद में दुलारे मीना ने राजवंश के शासकों को पराजित करने में सफलता हासिल की और सालो बाद सफलता का स्वाद चखा।  

कुलदेवी के लिए एक श्रद्धांजलि के रूप में मंदिर

इसके बाद मीना ने राजवंश पर अपनी जीत उनके आशीर्वाद उनकी पूजा और प्रसाद के लिए दुलारे मीना ने किलदेवी के मंदिर का निर्माण करवाया। ऐसा कहा जाता है कि दुलारे मीना राम वंश के थे इसलिए उनके वंश के नाम पर यहां का नाम जमवा रामगढ रखा गया था

रामगढ़ : पक्षियों पर नजर रखने और प्रशंसकों के लिए एक स्थान

रामगढ बाघ में देश विदेश से पक्षी साल भर भोजन की तलाश में आते है और यहां पर रहते है। इसलिए रामगढ़ झील अलग-अलग पक्षियों के नजारे देखने के लिए प्रसिद्ध है।

 


You May Also Like

Art lovers can gear up for the Cartist Automobile Art Festival 2017, which is going to start from 12th April.

Rajasthan has successfully contributed in Project tiger with its tiger reserves. And now, the state is going to have Leopard Reserves, as a first ever effort for leopard conservation.

India's Ms. Arti Sampat, who studied at Jaipur's Indian Institute of Hotel Management, won the American Food Reality Show 'Chopped'.

Prominent and top-notch Bollywood yoga ladies like Mrs. Shilpa Shetty Kundra and Mrs. Bipasha Basu Grover along with other dozen of actresses in the queue have shown immense interest and dedication in learning yoga.

Abhishek Sharma, a fitness trainer from the city of Jaipur has become a distinguished name in the tinsel town amongst bollywood actors and actresses.